सभी मित्रों ,देश वासियों को बैशाखी,बिखोती पर्व की पत्र परिवार की ओर से हार्दिक  बधाई एवं शुभकामना

देहरादून:आप सभी मित्रों ,देश वासियों को बैशाखी,बिखोती पर्व की पत्र परिवार की ओर से हार्दिक  बधाई एवं शुभकामनाएं, देश के विभिन्न हिस्सों में अलग अलग नामों से बहुत प्रसन्नता और हर्षोल्लास से मनाए जाने वाला बैशाखी पर्व ख़ुशी का प्रतीक है,उत्तराखण्ड,पंजाब हरियाणा,बिहार,केरल,उत्तरप्रदेश असम,त्रिपुरा में इस त्यौहार की बेहद धूम रहती है,कोई इसे बैशाखी कहते हैं तो वहीं उत्तराखण्ड में इसे विखौती कहा जाता है,विशु, बिहोग विशु,पुथुनंडु आदि नमो से भी इसे जाना जाता है,किसानों के फसलों की कटाई की खुशी के प्रतीक के रूप में भी इसे मनाया जाता है,तो सिख लोग अपने दसवें गुरु गोविन्द सिंह जी के खालसा पन्त की स्थापना की याद में इस दिन को बेहद श्रद्धा के साथ मनाते हैं।इस दिन भगवान सूर्यनारायण के प्रथम राशि मेष राशि में प्रवेश करने से इसे मेष संक्रांति भी कहते हैं,यह दिन बहुत पवित्र और शुभ दिन है,आज के दिन गंगा स्नान का विशेष महत्व है।आज के दिन से जगह जगह कई मेले शुरू हो जाते हैं, गंगा घाटों पर गंगा स्नान के लिए लाखों लोग पहुंचकर पुण्य अर्जित करते हैं, आज के दिन विबाह मूर्त  के रूप में सादी विबाह किया जाता है ।पंजाब में फसल काटने की सुरवात पर भंगड़ा नृत्य का आयोजन कर त्योहार मानते हैं।उत्तराखंड की बात करें तो यहाँ आजसे 10 दिन तक जगह जगह मेले सुरु होने से आपस में नाते रिस्तेदारों की मुलाकात सालभर में इनदिनों होजाती है।आप सभी मित्रों को बैशाखी पर्व के शुभ अवसर पर बहुत बहुत बधाई,भगवान आप सभी को हमेशा खुश रखें, इन्ही कामनाओ के साथ खुशियों के त्यौहार बैशाखी की आप सभी को मंगल कामनाएं। हर हर गंगे,जय श्रीराम। चन्द्रशेखर पैन्यूली

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *